वन अधिकारियों के संरक्षण में अवैध कटाई

वन अधिकारियों के संरक्षण में अवैध कटाई

अधिकारियों की मिलीभगत से हो रही जंगल की अवैध कटाई
ग्रामीणों ने लगाया आरोप
जतारा (टीकमगढ़)
जहां एक और सरकार के द्वारा हरियाली महोत्सव के तहत गांव-गांव में वृक्षारोपण कराया जा रहा है साथ ही जंगल की रखवाली करने के लिए वन विभाग का अमला भी तैनात है । लेकिन वन विभाग के अधिकारी कर्मचारियों की मिलीभगत से हरे-भरे जंगलों की अवैध कटाई की जा रही है एक ऐसा ही नजारा देखने को जतारा टीकमगढ़ मार्ग पर भरडा के जंगल में देखने को मिला है जहां पर हरे भरे पेड़ों की अवैध कटाई की जा रही है।
जिसको लेकर ग्राम भडरा के दशरथ पाल धनीराम पांडे राजेन्द्र पटेरिया दयाराम मिश्रा कमल पाल जगदीश आदिवासी रामकिशन आदिवासी रमेश आदिवासी हरनारायण आदिवासी कमल राय हरि बल्लभ रावत संतोष पांडे कमल कांत पटेरिया
आदि ने बताया कि वन विभाग के अधिकारी की मिलीभगत के चलते जंगल की अवैध कटाई हो रही है ।और यहां से हजारों की तादात में हरे भरे वृक्ष काटे जा चुके हैं अभी जंगल में ही पड़े हुए हैं बीते 5 दिन से अवैध कटाई चल रही है ।लेकिन विभाग के अधिकारियों के द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया है ।तथा उन्होंने यह भी बताया कि वन विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से जंगल की अवैध कटाई होकर जंगल की जमीन को जो पाई कार्रवाई की जा रही है और इस मामले को लेकर वन विभाग के अधिकारी कोई कार्यवाही नहीं कर रहे हैं ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि इसी प्रकार जंगल की अवैध कटाई होती रही तो धीरे-धीरे जंगल पूरी तरह नष्ट हो जाएंगे और लोग एक एक वृक्ष को तरसे सवाल तो यह भी उठता है कि जहां एक ओर सरकार के द्वारा जंगल की अवैध कटाई रोकने के लिए वन विभाग का अमला तैनात किया गया है ।साथ ही सरकार के द्वारा जंगलों को हरा भरा बनाने के लिए विशेष जोर दिया जा रहा है। जंगल की रखवाली के लिए किए जा रहे हैं ।विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत जंगल के पेड़ों पर कुल्हाड़ी से प्रहार कर जंगलों की कटाई की जा रही है। सवाल तो यह भी उठता है। कि मैं सड़क किनारे बीते 5 दिन से जंगल की कटाई हो रही है। जहां से जतारा अनुराग से लेकर टीकमगढ़ जिले के अधिकारियों का यहां से प्रतिदिन आना जाना भी लगा रहता है ।उसके बाद भी किसी भी अधिकारी की नजर इन जंगल के वृक्षों पर नहीं पडी हैं।
ग्रामीणों ने जिला प्रशासन के अधिकारियों से ध्यान दिए जाने की मांग की है।
क्या कहते पूर्व मंत्री
मध्य प्रदेश शासन के पूर्व मंत्री जतारा विधायक हरिशंकर खटीक ने बताया कि मुझे इस बारे में अभी जानकारी मिली है मैं अभी वन विभाग के डीएफओ से बात कर दोषी लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर आऊंगा अगर उन कार्यवाही नहीं की तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई कराई जाएगी

टीकमगढ़ ताजा खबर