प्यार में पुलिस ने दी मौत? 2 जिलों की पुलिस  के बीच हुआ अंतिम संस्कार।

प्यार में पुलिस ने दी मौत? 2 जिलों की पुलिस के बीच हुआ अंतिम संस्कार।

चरण सिंह बुंदेला बडागाँव धसान(टीकमगढ़ mp) बुडेरा थाने के ग्राम दरगुवा के मैरोन खिरक निवासी प्रेम लाल राजपूत के पुट 25 वर्षीय बीरन राजपूत की छतरपुर जिले के भगवा मे हुई संदिग्ध मौत की मजिसिट्रयल जांच के हुए आदेश। शनिवार दोपहर भगवा से वीरन का शव ग्राम मैरोन लाया गया जहां पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अंतिम संस्कार किया गया। बडागाँव , बुडेरा गुलगंज , भगवा मलहरा सहित अन्य पुलिस थानो की पुलिस मौजूद रही। अंतिम संस्कार के दौरान विवाद की स्थिति बनने की प्रबल संभावना थी। इसलिए बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था।

टीकमगढ़ जिले के पुलिस थाना बड़ागांव के गांव दरगुवा के मैरोन खिरक निवासी वीरन राजपूत करीब पांच माह पहले छतरपुर जिले के थाना भगवा के ग्राम पठलाखेरा निवासी एक लडकी को भगाकर ले गया था। लडकी के पिता की शिकायत पर पुलिस ने बीरन तथा भगवा थाना पुलिस ने बीरन राजपूत की तलाश शुरू कर दी , बीरन राजपूत लड़की को लेकर भाग गया था। पुलिस तलाश और दविश के चलते वीरन राजपूत व लडकी बुधवार 28 अगस्त को पुलिस थाना मे पेश हुए। मृतक वीरन के भाई जोराबर राजपूत एवं भतीजे संतोष राजपूत ने बताया कि वीरन को पुलिस थाने में पेश कराया गया था। पुलिस वीरन को थाने मे रखे रही। जोराबर ने बताया कि शुकवार 30 अगस्त को वह खाना देने के लिए भगवा थाना गया था, लेकिन भाई वीरन वहा नही मिला वह वापिस मैरोन लौट आया तथा 9-10 बजे रात मे बुडेरा थाना पुलिस ने बताया कि वीरन की मौत हो गई है मृतक के भाई जोराबर ने बताया कि जब वह भगवा पहुचे तो बताया कि अस्पताल मे शव रखा है। जोरावर और मृतक के भतीजे संतोष राजपूत ने मौत को संदिग्ध बताया है | घटना की मजिस्ट्रियल जांच शुरू हो गई है।पहली पत्नी से एक बच्चा ……मृतक वीरन की शादी बडागाँव थाने के ग्राम डूंडा रचना राजपूत के साथ हुई थी, इनका तीन बर्ष का बच्चा नीरज जब वीरन का शव । ग्राम मैरोन पहुचा तो शोक की लहर दोड गई। बड़ी संख्या में जहां लोग एकत्रित हो गये । वही पुलिस बल भी भारी संख्या मे मौजूद रहा। अंतिम संस्कार के दौरान कोई विवाद की स्थिति न बने इसलिए गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया था 2 जिलों के करीब 5 थानों की पुलिस गांव पहुंच चुकी थी पुलिस की मौत की मौजूदगी में उसका अंतिम संस्कार किया गया ।

कॉफी देर तक रूका रहा अंतिम संस्कार ………मृतक वीरन के परिजन घटना की मजिस्ट्रियल जांच की माग पर अड़ गये थे । डी एस पी योगेन्द्र सिंह का कहना है जांच मे जो भी सामने आयेगे, उसके हिसाव से काईवाही होगी। वही बुडेरा थाना प्रभारी बरदानी प्रसाद द्विवेदी ने बताया कि आक्रोशित लोगो को समझा कर अंतिम संस्कार करा दिया गया है। घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश हुए है

टीकमगढ़ ताजा खबर