तहसील के गेट पर किसान ने किया फांसी लगाने का प्रयास

तहसील के गेट पर किसान ने किया फांसी लगाने का प्रयास

धीरेंद्र संज्ञा लिधौरा टीकमगढ़ मध्य प्रदेश जब किसान को अधिकारियों से नहीं मिला न्याय तो तहसील के गेट पर फांसी लगाकर की आत्महत्या का प्रयास सुनकर चौंकिए नहीं यह हकीकत उस बुंदेलखंड की है जहां लालफीताशाही के चलते किसान परेशान हैं टीकमगढ़ जिले की तहसील लिधौरा के गांव खरों के रहने वाले प्रभु दयाल अहिरवार की जमीन पर गांव के ही दबंगों ने कब्जा कर लिया है इसकी शिकायत उसने कई बार जिला प्रशासन से लेकर के तहसील स्तर पर अधिकारियों से की लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी जब वह परेशान हो गया तो आज वह तहसील कार्यालय पहुंचा और गेट पर गले में फांसी लगाकर की आत्महत्या का प्रयास किया मौके पर पहुंचे तहसीलदार ने समझाइश दी इसके बाद किसान के गले में लगा फांसी का फंदा भी स्थानीय लोगों ने निकाला पीड़ित किसानों का कहना है कि गांव के दबंगों का साथ स्थानीय पटवारी दे रहा है और मैंने अपनी जमीन पर फसल बोई थी लेकिन जबरदस्ती गांव के ही दबंगों ने उस पर कब्जा कर लिया हैलिधौरा तहसीलदार सुनीता साहनी का कहना है की प्रभु दयाल अहिरवार शासकीय जमीन पर कब्जा किए हुए हैं मैंने जांच के आदेश दिए हैं पटवारी को और जांच प्रतिवेदन आने के बाद कार्रवाई की जाएगी अगर प्रभु दयाल या अन्य कोई शासकीय जमीन पर कब्जा किया है तो उसको हटाया जाएगा

टीकमगढ़ ताजा खबर