जिला अस्पताल पहुँची एक माह की मासूम

जिला अस्पताल पहुँची एक माह की मासूम

टीकमगढ़। श्रीरामराजा सरकार की नगरी ओरछा के प्रसिद्ध मंदिर के परिसर में आज कोई अज्ञात व्यक्ति एक माह की नवजात बच्ची को बेग में बंद कर  लावारिश हालत में छोड़कर चला गया है। रोती हुई बच्ची को प्रशासन ने अपने कब्जे में लेकर उसे स्थानीय अस्पताल भिजवा दिया है। वहीं बच्ची को छोड़कर गए अज्ञात की खोज की जा रही है।

ओरछा के श्रीरामराजा सरकार मंदिर परिसर में सुबह 7:00 बजे जब मन्दिर सुरक्षा में लगे एस ए एफ जवानों ने एक लावारिस बेग को देखा।तथा उस बेग की तलाशी ली तो उस बेग में करीब एक माह की नवजात जिंदा बच्ची को देखा।जिसकी तत्काल सूचना स्थानीय पुलिस थाना को दी।पुलिस द्वारा जननी एक्सप्रेस से बच्चों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद भिजवाया।स्वास्थ्य केंद में मेडिकल ऑफिसर डॉ रमेश आर्या ने बच्ची का स्वास्थ्य परीक्षण किया।जो पूर्णतः स्वस्थ पाई गई।पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई हैं कि आखिर यह व्यक्ति कौन है और बेग में बच्ची को छोड़कर कँहा गायब हो गया।

बच्ची की स्थिति को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि किसी अच्छे परिवार से सम्बंधित हैं ।बेग में बच्ची को गर्म कम्बल में लपेटकर लिटाया गया था साथ मे ड्राइपर दूध की बोतल रखी हुई थी।अब यह जांच का विषय है कि बच्ची के परिजनों ने किन मजबूरियों के कारण अपनी नवजात बच्ची को प्रभु रामराजा सरकार के दरबार मे छोड़ दिया।
औरछा स्वास्थ्य केन्द्र से नवजात बच्ची को 108 ऐम्बुलेंस की मदद से जिला अस्पताल टीकमगढ़ के लिऐ रैफर किया गया । जहाँ चाइल्ड लाइन 1098 की टीम ने नवजात शिशु को अपने हेन्ड ओवर लेकर S. N. C. U वार्ड में एडमिट कराया अग्रमीम कार्यवाही बाल कल्याण समिति के आदेश पर की जाऐगी
जिला समन्वयक विनोद खरे टीम मेम्बर जितेन्द्र सिंह चंदेल , अजयकांत खरे , काउंसलर बर्षा कुशबाहा शिशु गृह प्रबंधक सुबोध श्रीवास्तव , मधुसुदन गुप्ता

टीकमगढ़ ताजा खबर