कोरोना संकट में ड्यूटी ने बनाई परिवार से दूरियां

कोरोना संकट में ड्यूटी ने बनाई परिवार से दूरियां

बाल किशन प्रजापति बमौरीकला (टीकमगढ़)
जनता की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर 24 घंटे जनता की सेवा में लगी पुलिस विभाग के एक थाना प्रभारी ने इस संकट की घड़ी में अपने फर्ज के आगे 3 माह से परिवार से दूरी बनाकर अपना फर्ज निभा कर सच्चे मन से देश भक्ति जनसेवा के उस नारे को बुलंद किया जा रहा है ।
जो पुलिस विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को पुलिस में भर्ती होते समय यह बात कही जाती है उस बात को सच साबित होता नजर आ रहा है।
बताते चलें कि थाना बमोरी कला में पदस्थ थाना प्रभारी मुकेश सिंह ठाकुर ने अपनी पदस्थापना के बाद के कुछ समय बाद देशभर में कोरोनावायरस महामारी घोषित होने के बाद लाँकडाउन होने के बाद वह जनता की सुरक्षा व्यवस्था में इतने व्यस्त हो गए कि झांसी में रहने वाले अपनी पत्नी और बच्चों से मिलना ही भूल गए और तीन माह से अपने परिवार से इस संकट की घड़ी में दूरी बनाकर जनता की सुरक्षा व्यवस्था में अपना महत्वपूर्ण योगदान देकर अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं साथ ही जनता की सेवा कर रहे हैं। थाना प्रभारी मुकेश सिंह ठाकुर ने बताया कि पहले हमारे थाना क्षेत्र के जनता और उसकी सुरक्षा व्यवस्था करना हमारा पहला कर्तव्य है हम पहले उनकी सुरक्षा व्यवस्था करेंगे और अपना फर्ज निभाएंगे उसके बाद परिवार को देखेंगे बनेगी हमारे बच्चे और पत्नी इस संकट की घड़ी में झांसी में रखा है परेशानी के दौर से गुजर रहे लेकिन उनकी परेशानी से अधिक हमें अपना फायदा और जनता की जवाबदारी निभाना है कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के समय में जनता की सुरक्षा व्यवस्था महत्वपूर्ण है परिवार की समस्याओं और जरूरतों को हल करने के हम फोन पर ही प्रयास करते हैं कि वह स्वयं अपनी समस्याओं को इस संकट की घड़ी में सहन कर समस्याओं को हल कर ले ऐसी स्थिति में छुट्टी लेना और झांसी तक जाना संभव नहीं है ऐसी स्थिति में हमारे बच्चे भी हमारी मजबूरी समझ रहे और अपने समस्याओं को खुद ही हल करने का प्रयास कर रहे हैं।
वैसे भी देखा जाए तो थाना प्रभारी मुकेश सिंह ठाकुर ने अपनी पदस्थापना के बाद लाँकडाउन के समय गरीब जनता की मदद करते हुए नजर आ रहे हैं ।
कभी उनको राशन उपलब्ध करा रहे तो कभी भोजन यह काम भी सुरक्षा व्यवस्था के साथ थाना प्रभारी अपने पुलिस स्टाफ के साथ अपना फर्ज निभा कर ड्यूटी कर रहे हैं।

टीकमगढ़ ताजा खबर