कोरोना की आड़ मनरेगा में लाखों का भ्रष्टाचार

कोरोना की आड़ मनरेगा में लाखों का भ्रष्टाचार

धीरेंद्र संज्ञा चंदेरा (टीकमगढ़)। जिले में एक तरफ जहां कोरोना वायरस के असर के चलते जिला प्रशासन के आला अधिकारी बचाव के लिए लोगों में जागरूकता पैदा कर रहे है। वहीं भ्रष्टाचार में लिप्त सरपंच भागीरथ सेन, सचिव जानकारी प्रसाद परासिया फर्जी मस्टर चलाकर निर्माण कार्य कर रहे है। ऐसी ही जतारा ब्लाक की गा्रमपंचायत है गोटेट में मामला सामने आया है। जहां मनरेगा से खेत,तालाब निर्माण के साथ-साथ दो नवीन तालाब का निर्माण मनरेगा की बेबसाईट पर दिखाया जा रहा है। जिसमें 200 मजदूर काम करते हुए दिखाऐ जा रहे है। लेकिन मौके पर एक भी मजदूर मौजूद नही है और निर्माण कार्य मशीनों से पूर्ण हो चुके है।
जतारा ब्लाक की ग्रामपंचायत गोटेट में महात्मा गांधी नेशनल रूरल एम्प्लामेंट गारंटी की बेबासाईट में दो खेत-तालाब और एक नवीन तालाब निर्माण सतगुवां रोड़ के पास का निर्माण कार्य दिखाया जा रहा है। जिसमंे मजदूरों की संख्या 118 है। 118 से लेकर 200 मजदूरों के मस्टर पिछले 20 दिन से आॅनलाईन दिखाऐ जा रहे है। जबकि मौके पर कार्य मशीनों से पूर्ण करा दिए गए है। सूत्रों की माने तो मौके पर खेत, तालाब का कार्य नही हुआ है और मस्टर के माध्यम से पैमेंट कर लिया गया हैं। वही नवीन तालाब का कार्य मशीन से पूर्ण कराकर के फर्जी मस्टर भरकर मजदूरांे के नाम पैसे का आहरण किया जा रहा है।

दिल्ली में है मस्टर के मजदूर
आॅनलाईन जिन मजदूरों को काम पर दिखाया जा रहा है। वह गांव गोटेट के अर्जुन पाल, खलील खान, रामचरण कुशवाहा, कूरे, सीताराम, सुन्नी रजक सहित 118 मजदूर है। जो इस समय दिल्ली में काम करके अपना भरण-पोषण कर रहे है। गांव के राममिलन ने बताया कि यह गांव के सभी मजदूर दिल्ली में काम कर रहे है। जबकि सरपंच, सचिव द्वारा इनके फर्जी मस्टर भरकर पैसे का आहरण किया जा रहा है। जो समझ से परे है।

टीकमगढ़ जिला पंचायत विभाग की कुछेक भ्रष्टाचार करने वाली ग्रामपंचायतों को प्रशासन का आर्शीवाद प्राप्त है। जिसमें जतारा जनपद भ्रष्टाचार में अव्वल दर्जे पर है। गोटेट ग्रामपंचायत तो एक वो उदाहरण है जो भ्रष्टाचार कर संबधित कर्मचारी अधिकारियों को पर्याप्त मात्रा में नोटो की हरी-हरी गड्डियां उपलब्ध कराती है। इस सबंध में जब जिला पंचायत सीईओं हर्षित पंचोली से बात करना चाही तब उन्होने मोबाईल रिसीब नही किया।

लिखित शिकायत कराईऐं ……….
जतारा जनपद सीईओं शैलेन्द्र सिंह का कहना है कि लिखित शिकायत कराईऐं। मेरा कोई वर्जन नही है। क्या गड़बड़ी है आगे देख लेगें। मनरेगा की वेबसाइट पर ग्राम पंचायत में चल रहे कार्य जबकि स्पॉट पर कोई भी कार्य संचालित नहीं है फर्जी मास्टर भरकर के निकाली जा रही है राशि मशीनों से बनाई गई तलैया का वीडियो जबकि इसकी कार्य को वेबसाइट पर दिखाया जा रहा है जबकि बन कर के पूर्ण हो चुकी है

टीकमगढ़ ताजा खबर