₹10000 की लालच में दोस्त ने दोस्त को जला दिया था जिंदा 5 माह बाद पुलिस का दावा

मनीष दुबे जतारा(टीकमगढ़,).शराब के नशे की बड़ी बारदात, दोस्त ही निकला दोस्त का हत्त्यारा, साथ बैठ कर पी देर रात तक शराब, पैसों की लालच में कर दी बड़ी बारदात, 10 हजार रुपये लूट कर कैरोसिन डालकर लगा दी थी आग। 5 महीने बाद मोहनगढ़ पुलिस ने किया मामले का खुलासा
मामला टीकमगढ़ जिले के गोर गांव है जहां 27 जनवरी की रात में रामश्वरूप सोनी को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था जो बुरी तरह झुलसा हुआ था। रामस्वरूप की उपचार के दौरान मौत हो गई थी। पुलिस ने पूरे मामले की जांच शुरू की और एफएसएल रिपोर्ट आने के बाद पुलिस के हाँथ कुछ ऐसे सबूत लगे जिससे यह पक्का हो गया की रामस्वरूप की हत्त्या की गई है। परिजनों और ग्रामीणों के बयानों के आधार पर पुलिस ने संदेह के आधार पर रामस्वरूप के दोस्त कमलेश नायक से शक्ति से पूंछताछ की और पूरे घटनाक्रम से पर्दा उठ गया। कमलेश नायक ने लूट कर आग लगाकर हत्त्या करना स्वीकार किया। आरोपी ने पहले अपने दोस्त के साथ शराब पी तभी उस की नजर रामस्वरूप के पर्स में रखे पैसों पर पड़ी और उस की नीयत पैसों पर खराब हो गई थी और इसी लालच में उसने पहले रामस्वरूप के साथ लूट की और उस को कैरोसिन डालकर आग लगा दी थी। पुलिस ने आरोपी कमलेश नायक को गिरफ्तार कर हत्त्या का खुलाशा कर आरोपी को न्यायालय में पेश किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *