टीकमगढ़ स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर एक स्कूल में रात भर लहराता रहा तिरंगा सूर्यास्त के समय तिरंगा को उतारने का समय नहीं रहा शिक्षकों के पास जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कराएंगे मामले की जांच दोषियों के खिलाफ करेंगे कार्रवाई टीकमगढ़ जिले के शासकीय उत्तर माध्यमिक विद्यालय स्यावनी में 73 वां स्वतंत्रता दिवस स्कूल में धूमधाम से मनाया गया लेकिन जब सूर्यास्त के समय तिरंगा को उतारने का समय आया तो ध्वज को उतारा ही नहीं गया और रात भर लहराता रहा रात में ग्रामीणों ने राष्ट्रीय ध्वज का वीडियो बनाकर के सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है ………… भारतीय ध्वज संहिता क्या कहती है ………ध्वज संहिता में इस बात का स्पष्ट उल्लेख है कि राष्ट्रीय ध्वज को सूर्यास्त के बाद तुरंत सम्मान पूर्वक उतार लेना चाहिए अगर संस्था या व्यक्ति राष्ट्रीय ध्वज को नहीं उतरता है तो यह अपराध की श्रेणी में आता है गांव के रहने वाले राहुल विश्वकर्मा कहते हैं कि शाम के समय राष्ट्रीय ध्वज को शिक्षकों ने नहीं उतारा और वह देर रात्रि तक लहराता रहा जब इसकी सूचना गांव के रहने वाले शिक्षक रामू साहू को लगी तो उन्होंने राष्ट्रीय ध्वज को उतारा जबकि गांव के रहने वाले शिक्षक रामू साहू उपरारा में पदस्थ हैं इसकी सूचना शिक्षकों को भी दी गई थी लेकिन उन्होंने नहीं उतारा… स्यावनी के रहने वाले रतीराम कुमार कहते हैं की देर रात्रि तक राष्ट्रीय ध्वज स्कूल में नहीं उतारा गया क्योंकि प्राचार्य और स्कूल में पदस्थ शिक्षक गांव में नहीं रहते हैं क्या कहते हैं अधिकारी ……जिला शिक्षा अधिकारी कहते हैं कि राष्ट्रीय ध्वज को ना उतारना राष्ट्रीय ध्वज के अपमान में आता है निश्चिती हम नोटिस देकर के जवाब मांगेंगे और कार्रवाई करेंगे । जब प्राचार्य रामपाल अहिरवार से उनके मोबाइल नंबर 786 99 74819 पर उनका पक्ष जानना चाहा तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया देखें वीडियो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here