निस्वार्थ भाव से सेवक बनकर की जनता की सेवा – केके श्रीवास्तव
संघर्ष पुरुष स्व.बख्शी की मनाई गई सोलवीं पुण्यतिथि
टीकमगढ़। एक बात में आज पिताजी और आप सबके सामने कहता हूं कि आज तक मेरे ऊपर कोई भ्रष्टाचार, दलाली एवं रिश्वत कदाचरण का आरोप नहीं लगा सकता है जो भी काम मेरे द्वारा अभी तक की राजनीति में किए गए हैं वह निस्वार्थ और सेवा भाव से किए गए हैं। इन आरोपों से आज तक में जो बचा रहा यही मेरे पिताजी के संस्कार हैं जो मेरे और मेरे परिवार को दिए गए हैं। पिताजी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि पिताजी कहते थे कि जिस के दरवाजे लोगों के आने के कारण उनके जूतों की संख्या बढ़ती है वह देवदूत के समान उनकी खड़ाऊ होती हैं ने हमेशा ही चरण पादुका मानकर पूजते रहना। यह उद्गार विधायक केके श्रीवास्तव ने पुणे पूजनीय पिता स्वर्गीय संघर्ष पुरुष गंगा प्रसाद बख्शी की सोलवीं पुण्यतिथि पर व्यक्त किए।
नगर के शान ए पाक में टीकमगढ़ विधायक केके श्रीवास्तव के पूज्य पिता स्वर्गीय गंगा प्रसाद बख्शी की सोलवीं पुण्यतिथि का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें विधायक श्री श्रीवास्तव के परिजनों सहित अन्य लोगों ने उनकी प्रतिमा स्थल पर पहुंचकर उन्हें पुष्पांजलि श्रद्धांजलि अर्पित की। कार्यक्रम का संचालन डॉ लाल जी सान श्रीवास्तव ने किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ विष्णु सहाय अवस्थी अध्यक्षता भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अशोक गोयल ने की। कार्यक्रम के दौरान स्वर्गीय बख्शी जी के जीवन पर प्रकाश डालने वालों में रामेश्वर श्रुति अनिल भदौरा के के भट्ट मनोज देवरिया मनोज देवलिया पुष्पेंद्र सिंह सहित अनेको लोगों के नाम शामिल हैं। वहीं उनके छोटे पुत्र शिव कुमार श्रीवास्तव द्वारा एक भजन गाकर अपने पिता श्री को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस दौरान राजेंद्र अध्वर्यु गोपाल सिंह राय राजेंद्र जैन प्रदीप खरे अनिल रावत शैलेंद्र द्विवेदी अब्बास खान अंशुल खरे रोहित खटीक प्रतेंद्रा सिघाई सुनील जैन होंडा राजेंद्र श्रीवास्तव दीपक श्रीवास्तव शैलेंद्र अवस्थी अमित खरे अरविंद खेवरिया सहित अनेक लोगों के नाम शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here