बिजावर।(छतरपुर) शाहगढ़ थाना अंतर्गत लुहरपुरा गांव के दो युवक शनिवार की शाम शिकार करने के उद्देश्य से जंगल में गये हुए थे, जंगली जानवर शेई  को अपना शिकार बनाना चाह रहे थे, परंतु शेई हमलावरों से बचते हुए एक सकरी गुफा में घुस गई। शिकारी युवक भी शेई का पीछा करते हुए उसी गुफा में जा घुसे, गुफा में जगह कम होने के कारण सांस न मिलने से एवं शेई ने भी युवकों पर हमला किया। जिस कारण दोनों युवकों की मौत हो गई। 
शाहगढ़ थाना प्रभारी ने जानकारी देते हुए बताया है कि लुहरपुरा गांव के दो युवक बलराम आदिवासी उम्र 26 वर्ष एवं रजनीश आदिवासी  उम्र 25 वर्ष शनिवार की शाम घर पर लकड़ी लाने का कहकर जंगल गये हुए थे पूरी रात घरवालों ने इंतजार किया, परंतु युवक जंगल से वापस नहीं लौटे तो घरवालों को चिंता हुई और युवकों को खोजने के लिए ग्रामीणों को साथ लेकर परिजन जंगल की ओर तलाश करने लगे। पास के ही जंगल में युवकों का शरीर का कुछ हिस्सा दिखाई दिया। ग्रामीणों ने थाना शाहगढ़ को सूचना दी एएसआई एम.पी. सिंह गौड अपने पुलिस स्टॉफ को लेकर जंगल की ओर रवाना हुए। घटना स्थल पर पहुंचकर काफी मश्क्कत करने के उपरांत मृतकों के शरीर को गुफा से बाहर निकाला गया। समाज सेवी राजू जोशी ने बताया कि वह स्वयं पुलिस दल के साथ में थे, गुफा काफी सकरी थी बिना रेस्क्यू किए मृतकों के शरीर को नहीं निकाला जा सकता था, परंतु पुलिस व ग्रामीणों के सहयोग से मृतकों के शरीर को बाहर निकाला गया, 174 जापता फौजदारी के तहत शाहगढ़ थाना प्रभारी ने मर्ग कायम करते हुए। डेथ बॉडी को पोस्टमार्टम रिपोर्ट हेतु सामूदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिजावर भेज दिया। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का मामला स्पष्ट हो सकेगा।       

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here