टीकमगढ़ ।राष्ट्रीय पक्षियों की जहर देकर की जा रही है हत्या । ऐसा ही एक मामला सामने आया है टीकमगढ़ जिले का गांव भदौरा यहां के रहने वाली हीरालाल यादव पिछले 40 सालों से पास के ही जंगल में राष्ट्रीय पक्षी मोर की सेवा कर रहे हैं 40 सालों के दौरान इस जंगल में करीब 5000 से अधिक मोर हैं लेकिन पिछले कुछ दिनों से शिकारियों ने इस जंगल को अपना निशाना बना लिया है आए दिन राष्ट्रीय पक्षियों का शिकार किया जा रहा है इस जंगल में अपनी सेवाएं दे रहे हीरालाल का कहना है कि अधिकांश लोगों को जहर देकर मार दिया जाता है जिससे इनकी संख्या में निरंतर गिरावट आ रही है वह कहते हैं कि इसकी सूचना में वन विभाग और स्थानीय पुलिस को भी है लेकिन सुरक्षा के नाम पर दोनों विभाग द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here