छतरपुर/ जिले के बङामलहरा जनपद पंचायत  अंतर्गत एक पंचायत है बम्होरी खुर्द । इस पंचायत के भदौरा गांव के लोगों ने मतदान के बहिष्कार का निर्णय लिया है ।

 पंचायत की सरपंच हल्ली बाई अहिरवार ने बताया कि भदौरा गांव के लोगों ने 9अगस्त को  मतदान के बहिष्कार का निर्णय सङक की  समस्या को लेकर लिया था । भदौरा गांव से हलवानी तक डेढ किमी सङक बननी है । सङक न होने के कारण गांव वालों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता था । गांव तक जननी सुरक्षा वाहन नहीं आ पाता है, न बीमार व्यक्ति को ले जाने के लिए कोई वाहन आ पाता है । ऐसी दशा में बीमार और लाचार व्यक्ति को ले जाने के लिए चारपाई में  लेकर  डेढ किमी हलवानी गांव तक जाते हैं वहां से टैक्सी (आटो) से अस्पताल तक जाते हैं । 

समस्या के समाधान के प्रयास के संबंध में बताया कि कई-कई तरह के प्रयास किये गये हैं । प्रशासन से भी फरियाद की  और यहां की विधायक रेखा यादव से भी फरियाद की पर कोई समाधान नहीं निकाला जा सका । आज भी लोग इस समस्या से जूझ रहे हैं, बारिश में यह समस्या और भी विकराल हो जाती है ।असल में यह गांव बारिश के समय एक टापू में बदल जाता है । उन्होंने बताया कि गांव की आबादी 700 से ज्यादा है लगभग 400 मतदाता है । गांव में ज्यादातर दलित और पिछड़े वर्ग के लोग रहते हैं ,शायद इसी कारण हम लोगों की सही बात को मानना कोई जरूरी नहीं समझता । 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here