बड़ामलहरा।(छतरपुर) 4 बच्चों की मां ने प्रेमी से मिलकर, अपने पति की षडयंत्र पूर्वक हत्या कर दी। हत्या मामले में पुलिस ने बदचलन पत्नी, प्रेमी सहित 5 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर, बहुचर्चित मामले का खुलासा कर दिया। बताया गया कि, स्थानीय भारतीय स्टेट बैंक शाखा में अस्थाई तौर पर सेवा दे रहे, कर्मी और विवाहित महिला में अनैतिक संबंध थे, पति को रास्ते से हटाने के लिए दोनों ने साजिश के तहत हत्या कर दी। घटना के 8 दिन बाद पुलिस ने शनिवार को सनसनीखेज हत्या मामले का खुलासा कर दिया।
राजेश पिता मुन्नालाल साहू (32) निवासी वार्ड 03 थाना बड़ामलहरा की 26 जून बुधवार रात संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी। घटना की सूचना के बाद पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में ले लिया। बताया गया, 26 जून को कुशवाहा परिवार में शादी समारोह था। म्रतक यहां बुन्देली नृत्य रावला देखने लगा, देर रात घर लौटा और सुबह, परिजन को उसके मौत की खबर मिली। म्रतक 4 बच्चों का पिता था। म्रतक की पत्नी बिनीता ने सास को बताया कि, रात को कमरे की बिजली खराब थी सुधारते समय करंट लग गया।
एसडीओपी आरआर साहू के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी एसके दुबे ने मामले की जांच के उपरांत, हत्या के उपयोग में लाया सामान तकिया, तौलिया और मोबाइल फोन बरामद कर लिया। मामले में संदीप पिता अशोक राय, बिनीता पति राजेश साहू निवासी शंकर मुहल्ला वार्ड 3 थाना बड़ामलहरा, रामकिशन सेन, भागचंद्र अहिरवार निवासी मनकारी, मोंटू उर्फ सतपाल सैनी निवासी सेंधपा के खिलाफ धारा 302, 34 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को न्यायालय में पेश कर दिया।टीम में उपनिरीक्षक एमएम मिश्रा, अमित मिश्रा, पीएसआई कमलजीत सिंह, आरक्षक निशांत सिंह का सराहनीय योगदान रहा।

पत्नी और प्रेमी ने रची हत्या की साजिश

घटना संदेहास्पद थी इधर, पोष्टमार्टम रिपोर्ट बता रही थी कि, राजेश की मौत गला दबने से हुई है। पुलिस ने गंभीरता से जांच पड़ताल शुरू की और मृतिका की पत्नी बिनीता से पूंछताछ शुरू की, पहले वह घटना से मुकरती रही, संदेह के आधार पर दबाव बढ़ा तो उसने जुर्म कबूल कर लिया। घटना चौकाने वाली थी उसने बताया कि, बिगत चार वर्ष से वह पड़ोस में रहने वाले संदीप राय के संपर्क में है। रोज रात को वह मेरी जरूरत पूरी करता है। जबकि पति पिकअप वाहन चलता है जो रोज रात को घर से चला जाता है और मेरी जरूरतें भी पूरी नही कर पाता। पति को हमेशा के लिए रास्ते से हटाने हत्या की योजना तैयार की। रामकिशन सेन, भागचंद्र अहिरवार निवासी मनकारी, मोंटू उर्फ सतपाल सैनी निवासी सेंधपा थाना बड़ामलहरा को साढ़े 4 लाख रुपये की सुपारी देकर घटना को अंजाम देने राजी कर लिया। सोची समझी साजिश के तहत बुधवार रात सभी आरोपी इकट्ठे हो गए और जैसे ही राजेश घर मे आकर सोया तो प्रेमी संदीप राय ने म्रतक के मुंह पर तखिया रख लिया और पत्नी बिनीता ने गला दबाकर पतिब्रता धर्म नष्ट कर दिया। झटपटानें पर अन्य आरोपियों ने राजेश के हाँथ पैर जकड़ लिए थोड़ी देर में उसका दम निकल गया। महिला को छोड़कर घटना के अन्य आरोपी फरार हो गए।

फोन कर, बुलाती थी प्रेमी को

मोबाइल फोन से बिनीता अपने पति की सारी गतिविधियां संदीप को बताती थी। बताया जाता है कि, लेटेस्ट मोबाइल फोन प्रेमी द्वारा दिया गया था। सूत्रों के अनुसार फोन कॉल डिटेल में प्रेमी के अलाबा राष्ट्रीयकृत बैंक के एक अधिकारी से बात होने की पुष्टी हुई है। महिला के पास 2 सैकड़ा साड़ियां, अनेक जोड़ी फुटवेयर जिसमें प्रत्येक जोड़ी की कीमत हजारों रुपये में है।

प्रेमी ने महिला के नाम निकाला लोन

स्थानीय भारतीय स्टेट बैंक शाखा में अस्थाई कर्मचारी ने बैंक अधिकारियों से सैटिंग भिड़ाई और जमकर कमीशनखोरी की। हरकत से बैंक शाख को भी चोट पहुंची। कमीशनखोरी से बैंक की कार्यशैली क्षेत्र में चर्चित है। किसान क्रेडिट कार्ड, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुद्रा लोन जैसी अनेक ऋण योजनाओं में जमकर धांधली की गई है। जांच में एक बड़ा घोटाला उजागर हो सकता है। 10 से 20 फीसदी कमीशन लेकर, कई अपात्र लोग ऋण योजना से लाभान्वित किये गए है। ऋण लेने, म्रतक संदीप राय के सम्पर्क में आया। इसी बहाने उसका राजेश के घर आना जाना बढ़ गया और पत्नी बिनीता से अनैतिक संबंध हो गए। विश्वास बढ़ाकर संदीप ने, प्रेमिका की अंकसूची पर 5 लाख का ऋण, 90 हजार का गोल्ड लोन, एवं अपने नाम 7 लाख रुपये का बैंक ऋण लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here