सुनील रिछारिया-हरपालपुर(छतरपुर)mp

गरीबी जो भी कराए वह कम है ऐसा ही एक मामला सामने आया है अपने परिवार के भरण-पोषण के लिए गर्भवती महिला दिल्ली जा रही थी उसे अपने प्रसव का पता भी था लेकिन अपने मासूम बच्चों के पेट की आग बुझाने के लिए मजदूरी करने जाना था की हरपालपुर रेलवे स्टेशन आते ही प्रसूता को दर्द शुरू हुआ तो परिजन स्टेशन पर उतर गए रेल्वे स्टेशन पर प्रसूति महिला ने बच्चे को दिया जन्म महिला की हुई मौत परिवार शहर मजदूरी करने जा रहा था
रेलवे स्टेशन परिसर में महिला ने बच्चे को दिया जन्म प्रसव के दौरान महिला की हालत गंभीर होने से परिजन आनन फानन में इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हरपालपुर ले गए जहां डॉ ने प्रसूती महिला को मृत घोषित कर दिया।
जानकारी अनुसार महिला मजदूरी करती हैं मृतक किसान उर्फ बहोरी पति शाका बाल्मीकि उम्र 25 वर्ष निवासी काशीपुरा चक्र खमरिया औराई जिला भदोही उत्तर प्रदेश जो दोपहर 4 बजे के लगभग अपने परिजनों के साथ महोबा से हरपालपुर आई थी।
वही
नवजात शिशु को इलाज के लिए 108 की मदद से सामुदायिक स्वाथ्य केन्द्र नौगांव भेजा गया मौके पर पहुँची हरपालपुर थाना पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमाटर्म के लिए नौगॉव अस्पताल भेजा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here