(नसीम अली )टीकमगढ़.शक एक ऐसी बीमारी है जिसका इस दुनिया में कोई ईलाज नहीं है। शक में इंसान बड़े से बड़े फैंसले ले सकता है यहां तक की किसी की हत्या भी कर सकता है। जी हां ऐसा ही एक मामला सामने आया है टीकमगढ़ जिले के मलगुवां गांव मंे जहां बारात में अरविंद अहिरवार की उसके की मौसेरे भाई ने अपने दोस्ते के साथ मिलकर बेरहमी से कत्ल कर दिया। पुलिस ने 24 घंटे के अन्दर ही सभी आरोपीयों को गिरफतार कर घटना का खुलास किया।
..मामला टीकमगढ़ जिले के मलगुवां गांव का है जहां कल 20 अप्रैल की सुबह गांव के बाहर बने पुल के पास संदिग्ध हालत में एक लाष पड़ी होने की सूचना मिली थी। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और एफएसएल टीम ने हत्या की जांच पड़ताल शुरू की तो पाया गया था की मृतक का चेहरा पत्थर से कुचलकर चाकू से गला रेतने से हुई थी। पुलिस ने अज्ञात लाष की षिनाख्त शुरू की और गांव आई बारात में की गई वीडीयोग्राफी के आधार पर युवक के कपड़ो से उसकी षिनाखत की गई मृतक गुड़ा गांव से बारात में आया हुआ था। जहां उसे उसके मौसेरे भाई प्यारे लाल ने शराब पीने के बहाने अपने दोस्त के साथ मोटर साईकल से उसे गांव के बाहर पुल के पास ले गया। आरोपी हत्या का पहले से ही प्लान बनाये हुये थे। आरोपीयों पहले तो आषोक का जमकर शराब पिलाई और जब बह नषे में धुत्त हो गया तो पुल ने नीचे घात लगाये बैठे दोस्त अरविंद ने पत्थर से सर पर बार कर दिया और चाकू से गला रेत कर हत्ता कर दी। मृतक की सांसे चलता देख पत्थर से उस का बुरी तर कुचल कर सभी आरोपी फिर बापस शादी में शामिल हो गये।
.. लेकिन आरोपी कितना भी शांतिर क्यों न हो पुलिस के हांथो नही बच सकता। पुलिस ने शादी फुटेज के आधार पर आरोपीयों से पूंछताछ की तब मौसेरे भाई अरविंद ने स्वीकार किया की हत्या उसने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर की थी। अरविंद के माता पिता की मौत पहले हो चुकी थी और उसकी बहिन पिछले 6 माह से बीमार थी तब किसी बाबा से झाड़फूंक कराई तो बाबा ने बतलाया ही उसके बहिन पर भी जादू टोना किया गया है कुछ ही दिनो मंे उसकी भी मौत हो जायेगी। और इस जादूटोने का का शक अषोक और उसके पिता पर था उस को लगता था कि अषोक उस के परिवार का मारना चाहता है तब से ही बो अषोक को मारना चाहता था।
..नाना की जमीन पर कब्जा करने और जादू टोना कराने के शक में प्यारे लाल ने बो कर दिया जिसका उसे हमेष जीवन भर पछताबा रहेगा। लेकिन शक के चलते एक नहीं चार परिवार उजड़ चुके हैं। एक तरफ मृतक के परिवार में मातक का माहौल तो वहीं दूसरी तरफ हत्या करने वाले आरोपीयों को पुलिस ने गिरफतार कर न्यायालय में पेष किया जहंा आरोपी अपनी करनी की सजा जेल की सलाखांे के पीछे काट रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here