Views: 7

चीनी राष्ट्रपति का हुआ पुतला दहन

आचार्य पीठ श्री तपस्वी जी की छावनी से पधारे श्री जगत गुरु परमहंस आचार्य जी के नेतृत्व में ग्राम सभा में चीनी राष्ट्रपति का हुआ पुतला दहन

जतारा (टीकमगढ)
जैसा कि विगत कुछ दिनों पहले चीन की सेना द्वारा भारतीय सेना को धोखे से हमला कर मार दिया गया था जिसका विरोध समूचा देश अभी सामान का बहिष्कार कर एवं चीनी राष्ट्रपति का पुतला जगह जगह चलाया जा रहा है ऐसा ही कुछ नजारा जतारा जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम पंचायत सतगुआ का है जहां आचार्य पीठ श्री तपस्वी जी की छावनी अयोध्या से पधारे श्री जगत गुरु परमहंस आचार्य के नेतृत्व में चीनी राष्ट्रपति का पुतला जलाया गया एवं चीनी सामान का बहिष्कार करने का सभी ग्राम वासियों संकल्प दिलाया वहीं श्री जगत गुरु जी ने बताया की कोविड-19 आतंकवाद की सबसे बड़ी और कठिन जंग है जैसा कि माननीय प्रधानमंत्री जी नरेंद्र मोदी कई बार कई देशों के राष्ट्रीय अध्यक्षों बता चुके हैं कि आतंकवाद का कोई धर्म या जाति नहीं होती है जो आज हमें साफ नजर आ रहा है पहले चीन पाकिस्तान की द्वारा आत्मघाती हमलावरों को तैयार करके निर्दोष लोगों को निशाना बना रहे थे अब वह स्वयं कोविड-19 जैसा जैविक हथियार तैयार कर विश्व को खत्म करना चाहता था है जिसकी चपेट में तमाम देश राष्ट्र शामिल है अब वक्त है पूरा विश्व समुदाय एकजुट होकर आतंकवाद की जड़ चीन और पाकिस्तान को उखाड़ फेंके वहीं प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए कहा कि भारत में चाइनीस सामान का बहिष्कार करने का संकल्प हम सभी को लेना पड़ेगा एवं चीन और पाकिस्तान जैसे गद्दार देशों को सबक सिखाना पड़ेगा वही कोविड-19 एक ऐसी जंग है जिससे हम सबको मिलकर लड़ना होगा और यह वायरस दवा से नहीं सामाजिक दूरी एवं सफाई से समाप्त होगा वही परम पूज्य गुरुदेव ने भारतीय संस्कृति पर जोर देते हुए कहा कि हमारी संस्कृति विज्ञान से पहले हैं अगर हर भारतवासी भारतीय संस्कृति का पालन करें तो कोरोना वायरस किसी को अपनी चपेट में नहीं ले सकता वही इस उपरांत ग्राम गतगुआ में अरुण चौबे परम ज्योति दीपू यादव हल्का यादव डीपी यादव दिनेश कुमार विश्वकर्मा सिया शरण विश्वकर्मा प्रिंस यादव नंदकिशोर यादव मनोहर यादव सहित ग्रामवासी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *