गड्डो से हादसा,तमासबीन प्रसासन

पंकज नायक की रिपोर्ट बल्देवगढ़ टीकमगढ़ छतरपुर मुख्य मार्ग पर पाइप डालने के लिए किया गड्डा अब बन गये मुसीबत

टीकमगढ़ छतरपुर मुख्य मार्ग और एमपीआरडीसी निगरानी वाली सड़क जहां पर रोज की हजारों वाहन गुजरते हैं वही मुख्य नगर के बस स्टैंड परिषद के नीचे गर्ल्स हॉस्टल के सामने पानी की पाइपलाइन डालने के लिए बीच रोड काटकर उसमें पाइपलाइन डाल दी ओर बंद नही किया जो अब मुसीबत लोगों के लिए बन गई है यहां तक कि हर रोज होती है वारदातें कई गाड़ियां गिरती है और जख्मी होकर लोग जिला अस्पताल हो जाते हैं सीधे रिफर घाटी होने की वजह से दूर से दिखाई ना देने के कारण हादसा होते हैं एक ताजा मामला सामने आया जहां पर तेज रफ्तार आ रही अल्टो K10 अचानक में गड्ढा आ जाने की वजह से गाड़ी अनियंत्रण होकर सामने स्थित दुकान में जा घुसी गली मत इतनी रही कि दुकान उस समय बंद थी वहीं मौजूदा स्थानीय निवासी नीरज शर्मा ने बताया की टीकमगढ़ छरतपुर जाने का यह है मैन रोड है यहां पर रोज हजारों वाहन गुजरते हैं रोज हादसे पर हादसे होते हैं यहां तक कि कई लोग इस गड्डी की शिकार भी बन चुके हैं जो जिला अस्पताल तक रिफर हो गए हैं किसी को सिर में चोट आई तो किसी के हाथ पैर टूटे नगर परिषद की पाइप लाइन की वजह से यहा गड्ढा खोद दिया पर गड्ढा की सही तरीके से पुराई नही करने की बजह से आज मुसीबत बन गई करीब 1 फुट गहरा गड्ढा रोज हादसों को देता है नोयता स्थानीय निवासी साकर खान ने बताया कि मेरी दुकान यहीं पर मौजूद है और रोज देखता हूं यह गड्ढा कितने लोगों को जख्मी कर रहा है वही मुख्य सड़क टीकमगढ़ छतरपुर होने की वजह से यहां से हजारों वाहन गुजरते हैं और यहा टीकमगढ़ के रास्ते जब बल्देवगढ़ आते हैं तो ऊंचाई की वजह से दिखाई नहीं देता जिस वजह से अधिकांश हादसे होने की संभावना बनी रहती है कई बार हम ही लोगों ने मिलकर इस गड्डी में मिट्टी डालकर बंद किया पर मजबूती से बंद ना करने की वजह से फिर से गड्ढा बन जाता है

स्थानीय निवासी कोमल जैन ने बताया कि कुछ दिन पहले मेरी दुकान में अनियंत्रित होकर एक गाड़ी दुकान की बंद सटर में जा गली इससे काफी नुकसान हुआ अगर प्रशासन की योजना ने इस घटना को खुदकर पाइप लाइन तो डाल दी पर इसे नियमित रूप से बंद नहीं कराया अब रोज हादसा हो रहे है प्रशासन भी इस पर किसी प्रकार की कोई ध्यान नहीं दे रहा है

वहीं इस संबंध में जब एमपीआरडीसी के डिवीजनल मैनेजर सागर के पीके जोशी से बात की तो उन्होंने कहा की एमपीआरडीसी से सुकृत होकर नगर परिषद द्वारा पाइप लाइन डाली गई थी और जिस तरीके से पहले रोड था वैसी करके उन्हें देना भी चाहिए फिर भी अगर रोड का गड्ढा नहीं भरा तो यह गलत है मैं अभी आदेश करता हूं कि जल्द से जल्द रोड की मरम्मत की जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *