टीकमगढ़ जिला अस्पताल की वार्ड में भर्ती यह दोनों समिति प्रबंधक किसानों की लुटेरे हैं जो आराम से बैठे हुए हैं लेकिन सरकारी रिकॉर्ड में बीमार है उड़द खरीदी में किसानों से दलाली लेती रंगे हाथों पकड़े गए दो समिति प्रबंधक अस्पताल में कर रहे हैं मजे टीकमगढ़ जिले के गुड़गांव में चल रही उड़द की खरीदी में आज से 4 दिन पहले जिला प्रशासन ने छापा मारकर के तीन लोगों को किसानों से रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था जिस पर मोहनगढ़ थाने में इन तीनों के खिलाफ 420 धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया था न्यायालय ने इन तीनों को जेल भेज दिया था लेकिन कहते हैं ना कि रसूख और रुपया बोलता है जेल पहुंचे बंधा सहकारी समिति के प्रबंधक राम प्रकाश दांगी और मोहनगढ़ के समिति प्रबंधक लोकपाल सिंह जेल जाते ही बीमारी का बहाना कर लेते हैं और जिला अस्पताल आकर के भर्ती हो जाते हैं और यहां पर आराम फरमा रहे हैं ऐसे में आप कल्पना करिए न्याय देने वाले भ्रष्टाचारियों के सामने नतमस्तक हो जाते हैं यही वजह है कि पिछले 2 दिन से अस्पताल में आराम फरमा रहे हैं जैसे ही मीडिया कुछ की खबर लगी तो पत्रकार अस्पताल पहुंच गए जहां बीमार दोनों आरोपी अखबार पढ़ रहे थे और मिलने वालों से गप्पे कर रहे थे मीडिया का जवाब देख रिश्वतखोर डॉक्टर ने तुरंत उन्हें डिस्चार्ज कर दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here